हिमाचल में पानी की आपूर्ति में सुधार के लिए केंद्र ने एडीबी के साथ 96.3 मिलियन डॉलर के ऋण पर हस्ताक्षर किए

Tags: State News


एशियाई विकास बैंक और भारतीय सरकार ने 22 अगस्त को हिमाचल प्रदेश में सुरक्षित पेयजल प्रदान करने और जल आपूर्ति और स्वच्छता सेवाओं में सुधार के लिए 96.3 मिलियन डॉलर (लगभग 769 करोड़ रुपये) के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किए।


महत्वपूर्ण तथ्य -

  • यह परियोजना जल जीवन मिशन के उद्देश्यों के अनुरूप है, जिसका उद्देश्य 2024 तक सभी ग्रामीण परिवारों को पाइप से पानी उपलब्ध कराना है।

  • यह ऋण हिमाचल प्रदेश ग्रामीण पेयजल सुधार और आजीविका परियोजना के तहत दिया गया है। 

  • प्रदेश की 90 प्रतिशत से अधिक ग्रामीण आबादी की पेयजल तक पहुंच है लेकिन जलापूर्ति ढांचा पुराना एवं खस्ताहाल है जिससे सेवा की गुणवत्ता खराब रहती है।

  • एडीबी की इस परियोजना के तहत हिमाचल प्रदेश के 75,800 घरों को इस सेवा से जोड़ा जाएगा और दस जिलों में 370,000 निवासियों को स्वच्छ पेयजल की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित हो सकेगी।

  • इस परियोजना के अंतर्गत जल आपूर्ति अवसंरचना को बेहतर किया जाएगा तथा संस्थागत क्षमता मजबूत की जाएगी। 

  • इस तरह सुरक्षित, टिकाऊ तथा समावेशी ग्रामीण जल आपूर्ति एवं स्वच्छता सेवा सुनिश्चित की जाएगी।

परियोजना के उद्देश्य :

  • परियोजना का लक्ष्य 48 भूजल कुओं, 80 सतही जल सुविधाओं, 109 जल उपचार संयंत्रों, 117 पंपिंग स्टेशनों और 3,000 किलोमीटर जल वितरण पाइपलाइनों का निर्माण करना है।

एशियाई विकास बैंक (ADB) :

  • यह19 दिसंबर 1966को स्थापित एक क्षेत्रीय विकास बैंक है।

  • वर्तमान में एडीबी में 68 सदस्य शामिल हैं जिनमें से 49 एशिया और प्रशांत के और 19बाहर से हैं।

  • यह एक समृद्ध, समावेशी, लचीला और टिकाऊ एशिया और प्रशांत क्षेत्र की कल्पना करता है। 

  • यह इस क्षेत्र में अत्यधिक गरीबी को मिटाने का प्रयास करता है।

  • यह सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए ऋण, तकनीकी सहायता, अनुदान और इक्विटी निवेश प्रदान करके अपने सदस्यों और भागीदारों की सहायता करता है।

  • इसका मुख्यालय मनीला, फिलीपींस में है।

Please Rate this article, so that we can improve the quality for you -

Date Wise Search

Test Your Learning

CURRENT AFFAIRS QUIZ

Go To Quiz

CURRENT AFFAIRS QUIZ

Go To Quiz