Current Affairs search results for tag: important-days
By admin: Aug. 30, 2022

1. राष्ट्रीय लघु उद्योग दिवस

Tags: Important Days


राष्ट्रीय लघु उद्योग दिवस हर साल 30 अगस्त को देश भर में छोटे उद्योगों को उनकी समग्र विकास क्षमता और वर्ष में उनके विकास के लिए मिलने वाले अवसरों को समर्थन और बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है।

महत्वपूर्ण तथ्य -

  • यह पूरे देश में छोटे व्यवसायों को प्रोत्साहित करने के लिए समर्पित एक वार्षिक उत्सव है।

  • यह दिन छोटे व्यवसायों को प्रोत्साहित करने और बेरोजगारों को नौकरी के अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से मनाया जाता है।

पृष्ठभूमि :

  • नेशनल स्मॉल इंडस्ट्री डे को साल 2000 से मनाया जाने का उल्लेख मिलता है जब तत्कालीन सरकार ने स्मॉल स्केल इंडस्ट्रीज (SSI) को एक विस्तारित पॉलिसी पैकेज देने का फैसला लिया थाI  

  • 30 अगस्त 2000 को स्मॉल स्केल इंडस्ट्री मिनिस्ट्री ने ऐलान किया कि हर साल इस दिन को नेशनल स्मॉल इंडस्ट्री डे के रूप में मनाया जाएगाI 

  • संयुक्त राष्ट्र द्वारा वर्ल्ड एमएसएमई दिवस प्रतिवर्ष 27 जून को मनाया जाता है I 

  • वर्ल्ड एमएसएमई दिवस की वर्ष 2022 के लिये थीम: ‘लचीलापन और पुनर्निर्माण: सतत् विकास के लिये एमएसएमई’ है I 

MSME क्षेत्र से संबंधित पहलें : 

  • सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम विकास अधिनियम को वर्ष 2006 में MSME को प्रभावित करने वाले नीतिगत मुद्दों के साथ-साथ क्षेत्र की कवरेज और निवेश सीमा को संबोधित करने के लिये अधिसूचित किया गया था।

  • प्रधानमंत्री रोज़गार सृजन कार्यक्रम (PMEGP) :-यह नए सूक्ष्म उद्यमों की स्थापना तथा देश के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रोज़गार के अवसर पैदा करने के लिये एक क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी योजना है। शुरुआत - 15 अगस्त 2008 

  • पारंपरिक उद्योगों के उत्थान के लिये निधि की योजना (SFURTI) :- इसका उद्देश्य कारीगरों और पारंपरिक उद्योगों को समूहों में व्यवस्थित करना तथा इस प्रकार उन्हें वर्तमान बाज़ार परिदृश्य में प्रतिस्पर्द्धी बनाने के लिये वित्तीय सहायता प्रदान करना है।

  • सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिये क्रेडिट गारंटी योजना :- ऋण के आसान प्रवाह की सुविधा के लिये शुरू की गई इस योजना के अंतर्गत MSME को दिये गए संपार्श्विक मुक्त ऋण हेतु गारंटी कवर प्रदान किया जाता है।

  • क्रेडिट लिंक्ड कैपिटल सब्सिडी और टेक्नोलॉजी अपग्रेडेशन स्कीम (CLCS-TUS) :- इसका उद्देश्य संयंत्र और मशीनरी की खरीद के लिये 15% पूंजी सब्सिडी प्रदान करके सूक्ष्म और लघु उद्यमों (MSME) को प्रौद्योगिकी उन्नयन की सुविधा प्रदान करना है।

  • CHAMPIONS पोर्टल :- इसका उद्देश्य भारतीय MSME को उनकी शिकायतों को हल करके और उन्हें प्रोत्साहन, समर्थन प्रदान कर राष्ट्रीय एवं वैश्विक चैंपियन के रूप में स्थापित होने में सहायता करना है।



By admin: Aug. 29, 2022

2. राष्ट्रीय खेल दिवस

Tags: Sports Important Days Sports News


हॉकी के दिग्गज मेजर खिलाडी ध्यानचंद की जयंती के उपलक्ष्य में भारत हर साल 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस मनाता है।


महत्वपूर्ण तथ्य -

  • यह दिन शारीरिक गतिविधि, खेल और समग्र स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता बढ़ाता है।

  • यह दिन भारत के प्रसिद्द खिलाडियों और खेल चैंपियनों को भी समर्पित है, जिन्होंने देश को गौरवान्वित करने के लिए खेल में महत्त्वपूर्ण योगदान दिया है।

  • युवा मामले और खेल मंत्रालय राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर देश भर के 26 स्कूलों में - 'चैंपियन से मिलो' पहल का आयोजन करेगा।

  • राष्ट्रमंडल खेलों और विश्व चैंपियनशिप के स्वर्ण पदक विजेता निकहत जरीन, पैरालिंपिक और राष्ट्रमंडल खेलों की पदक विजेता भावना पटेल, टोक्यो ओलंपिक और राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेता मनप्रीत सिंह सहित कुछ प्रमुख एथलीट इस पहल का हिस्सा होंगे।

  • 2022 की थीम - 'चैंपियन से मिलें'

दिन का इतिहास :

  • भारत में पहला राष्ट्रीय खेल दिवस 29 अगस्त 2012 को मनाया गया।

  • 'हॉकी विजार्ड' और 'द मैजिशियन' के रूप में व्यापक रूप से जाने जाने वाले मेजर ध्यानचंद का जन्म 29 अगस्त, 1905 को उत्तर प्रदेश में हुआ था और उनके जन्मदिन को मनाने के लिए राष्ट्रीय खेल दिवस मनाया जाता है।

अतिरिक्त जानकारी -

दिन का महत्व :

  • इसका प्राथमिक उद्देश्य सभी नागरिकों के दैनिक जीवन में खेल के महत्व और शारीरिक रूप से सक्रिय होने के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देना है।

  • जीवन में शारीरिक गतिविधियों और खेलों के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा  विभिन्न कार्यक्रम, सेमिनार आदि भी आयोजित किए जाते हैं।

  • इस दिन का उपयोग विभिन्न खेल योजनाओं को शुरू करने के लिए एक मंच के रूप में किया जाता है।

मेजर ध्यानचंद के बारे में :

  • वह भारतीय पुरुष हॉकी टीम के सदस्य थे।

  • उनका जन्म 29 अगस्त 1905 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद (प्रयागराज) में हुआ था।

  • उन्होंने 1928, 1932 और 1936 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में जीत के साथ भारत को ओलंपिक स्वर्ण पदक की अपनी पहली हैट्रिक पूरी करने में मदद करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

By admin: Aug. 27, 2022

3. महिला समानता दिवस

Tags: Important Days


दुनिया भर में महिलाओं की स्थिति को मजबूत करने और उन्हें समाज के हर क्षेत्र में पुरुषों के समान अधिकार व सम्मान दिलाने के उद्देश्य से हर साल 26 अगस्त को महिला समानता दिवस के तौर पर मनाया जाता है।


महत्वपूर्ण तथ्य - 

  • इस दिन को मनाने की शुरुआत अमेरिका में हुई लेकिन अब भारत समेत कई देश महिला समानता दिवस को मनाते हैं।

  • अमेरिका में 26 अगस्त, 1920 को 19वें संविधान संशोधन के माध्यम से पहली बार महिलाओं को मतदान का अधिकार मिला।

  • इसके पहले वहाँ महिलाओं को द्वितीय श्रेणी नागरिक का दर्जा प्राप्त था। 

  • महिलाओं को समानता का दर्जा दिलाने के लिये लगातार संघर्ष करने वाली एक महिला वकील बेल्ला अब्ज़ुग के प्रयास से वर्ष 1971 से 26 अगस्त को 'महिला समानता दिवस' के रूप में मनाया जाने लगा।

  • न्यूजीलैंड विश्व का पहला देश है जिसने वर्ष 1893 में 'महिला समानता' की शुरुआत की थी।

अतिरिक्त जानकारी -

भारत में महिला अधिकार : 

1- समान वेतन अधिकार :-

  • इस कानून के तहत आय या मेहनताना देने में लिंग का भेदभाव नहीं किया जा सकता। यानी किसी भी कामकाजी महिला को उस पद पर कार्यरत पुरुष के बराबर वेतन लेने का अधिकार है।

2- मातृत्व लाभ कानून :-

  • 1961 में लागू इस एक्ट के तहत कामकाजी महिला के माँ बनने की स्थिति में कार्यालय से 6 माह की छुट्टी लेने का अधिकार है। मैटरनिटी लीव या गर्भावस्था के दौरान छुट्टी लेने पर कंपनी महिला कर्मचारी के वेतन में कोई कटौती नहीं कर सकती।

3- संपत्ति का अधिकार :- 

  • भारत में बेटों को पिता और परिवार का कुल वंश माना जाता है। हालांकि हिंदू उत्तराधिकार (संशोधन) अधिनियम, 2005 के तहत पिता की संपत्ति या पुस्तैनी संपत्ति पर बेटे और बेटी दोनों का समानता का अधिकार है।

4-पहचान जाहिर न करने का अधिकार :-

  • भारतीय कानून महिला की निजता की सुरक्षा का अधिकार देता है। इसके तहत अगर कोई महिला यौन उत्पीड़न का शिकार है तो वह अपनी पहचान गोपनीय रख सकती है और अकेले जिला मजिस्ट्रेट व किसी महिला पुलिस अधिकारी के मौजूदगी में बयान दर्ज करा सकती है।





By admin: Aug. 27, 2022

4. भारत-बांग्लादेश संयुक्त नदी आयोग की 38वीं मंत्री स्तरीय बैठक

Tags: International Relations Important Days


भारत-बांग्लादेश संयुक्त नदी आयोग की 38वीं मंत्री स्तरीय बैठक 25 अगस्त, 2022 को नई दिल्ली में आयोजित की गई। 


महत्वपूर्ण तथ्य -

  • भारतीय प्रतिनिधिमंडल की अध्यक्षता केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने की और बांग्लादेश के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व जल संसाधन राज्य मंत्री जाहिद फारूक ने किया।

  • दोनों देशों ने बैठक के दौरान गंगा, तीस्ता और कई छोटी नदियों से संबंधित मुद्दों की एक विस्तृत श्रृंखला पर चर्चा की।

  • दोनों पक्षों ने बाढ़ से संबंधित डेटा और सूचनाओं के आदान-प्रदान, नदी-बैंक संरक्षण कार्यों, सामान्य बेसिन प्रबंधन और भारत की नदी जोड़ो परियोजना पर भी चर्चा की।

  • बांग्लादेश ने लंबे समय से लंबित तीस्ता जल बंटवारा संधि को जल्द से जल्द पूरा करने का अनुरोध किया।

  • दोनों पक्षों ने कुशियारा नदी के पानी को अंतरिम तौर पर साझा करने के लिये समझौता-ज्ञापन के मसौदे को भी अंतिम रूप दिया।

  • दोनों पक्षों ने त्रिपुरा में सबरूम टाउन की पेयजल आवश्यकताओं की पूर्ति के लिये फेनी नदी से पानी लेने वाले स्थान तथा उसकी तकनीकी अवसंरचना के डिजाइन को अंतिम रूप दिये जाने का स्वागत किया।

  • उल्लेखनीय है कि इस बारे में अक्टूबर 2019 में दोनों देशों के बीच समझौता-ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया गया था।

  • यह बैठक12 वर्षों के अंतराल के बाद आयोजित किया गया था।

भारत और बांग्लादेश के बीच नदियाँ :

  • भारत और बांग्लादेश आपस में 54 नदियों को साझा करते हैं।

  • सभी गंगा-ब्रह्मपुत्र-मेघना (GBM) बेसिन की जल निकासी व्यवस्था का हिस्सा हैं।

  • पद्मा (गंगा), जमुना (ब्रह्मपुत्र) और मेघना (बराक) और उनकी सहायक नदियाँ बांग्लादेश में खाद्य और जल सुरक्षा बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं।

  • जल संसाधन आवंटन के संबंध में भारत और बांग्लादेश के बीच के विवाद उस समय से है जब बांग्लादेश पूर्वी पाकिस्तान था।

  • 1961 में, भारत ने फरक्का बैराज का निर्माण शुरू किया, जिसे अप्रैल 1975 तक चालू किया जाना था।

  • जब भारत ने परियोजना के लिए अपनी प्रारंभिक योजना शुरू की, तो पाकिस्तान ने पूर्वी पाकिस्तान पर परियोजना के संभावित प्रभाव पर चिंता व्यक्त की।

संयुक्त नदी आयोग (जेआरसी) :

  • इसका गठन 1972 में भारत और बांग्लादेश के बीच हुआ था।

  • यह साझा/सीमा/बाउन्ड्री नदियों पर आपसी हित के मुद्दों के समाधान के लिए एक द्विपक्षीय तंत्र है।

अतिरिक्त जानकारी -

कुशियारा नदी के बारे में :

  • यह बांग्लादेश और असम में एक वितरण नदी है।

  • कुशियारा का पानी मणिपुर, मिजोरम और असम से सहायक नदियों में जाता है।

By admin: Aug. 23, 2022

5. विश्व जल सप्ताह - 2022

Tags: Important Days International News


विश्व जल सप्ताह- 2022 - 23 अगस्त से 1 सितंबर तक स्टॉकहोम, स्वीडन में आयोजित हो रहा है।


महत्वपूर्ण तथ्य -

  • विश्व जल सप्ताह 2022 की थीम - "अनदेखे को देखना: पानी का मूल्य"।

  • इसका आयोजन स्टॉकहोम इंटरनेशनल वाटर इंस्टीट्यूट (SIWI) द्वारा किया गया है।

  • विश्व जल सप्ताह 2022 की थीमको तीन मुख्य दृष्टिकोण के अंतर्गत शामिल किया गया है -

  1. लोगों के लिए पानी का मूल्य और विकास

  2. प्रकृति और जलवायु परिवर्तन के लिए पानी का मूल्य

  3. पानी का वित्तीय और आर्थिक मूल्य

  • यह आयोजन दुनिया भर के लोगों को एकजुट करने, विचारों को बढ़ावा देने, नवाचार और भविष्य के बारे में चर्चा करने के कई अवसर प्रदान करेगा।

  • विश्व जल सप्ताह के तहत खाद्य सुरक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, प्रौद्योगिकी, जैव विविधता, जलवायु परिवर्तन आदि सहित जल से संबंधित विषयों पर लगभग 300 सत्र आयोजित किए जाएंगे।

  • विश्व जल सप्ताह शीर्ष वैज्ञानिकों, संयुक्त राष्ट्र के विशेषज्ञों, स्थानीय सामुदायिक समूहों, उद्यमियों, शीर्ष राजनेताओं, छात्रों, सीईओ और कई अन्य लोगों को आकर्षित करेगा।

  • यह सतत विकास लक्ष्यों की दिशा में सुधार हासिल करने में मदद करेगा।

By admin: Aug. 22, 2022

6. विश्व वरिष्ठ नागरिक दिवस

Tags: Important Days


दुनियाभर के बुजुर्गों को सम्मान देने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष  21 अगस्त को विश्व वरिष्ठ नागरिक दिवस मनाया जाता है I 


महत्वपूर्ण तथ्य - 

दिवस का इतिहास :

  • संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 14 दिसंबर 1990 में इस दिवस को मनाने की घोषणा की थी। 

  • पहली बार 1 अक्टूबर 1991 को अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस मनाया गया था। 

  • अमेरिका में राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन ने 19 अगस्त 1988 को इस प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किए और 21 अगस्त 1988 को संयुक्त राज्य में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस मनाया गया। 

  • वहीं रोनाल्ड रीगन वरिष्ठ नागरिक दिवस को पेश करने वाले पहले व्यक्ति थे। 

इस दिवस का महत्व :

  • अगले तीन दशकों में वैश्विक स्तर पर उम्रदराज लोगों की संख्या दोगुनी हो जाने का अनुमान जताया गया हैI 

  • संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2050 तक दुनिया भर में 1.5 बिलियन लोग वरिष्ठ नागरिकों की श्रेणी में होंगे I

अतिरिक्त जानकारी -

वरिष्ठ नागरिकों की बेहतरी के लिए भारत सरकार की योजनाएं :

  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना - यह योजना एक सामाजिक सुरक्षा योजना और पेंशन प्लान है I  शुरुआत - 4 मई, 2017

  • वरिष्ठ मेडिक्लेम पॉलिसी - यह सीनियर सिटीजन हेल्थ इंश्योरेंस एक मेडिकल बीमा योजना है, जो 60 से 75 साल के बीच के आयु वर्ग के नागरिकों के लिए हैI 

  • राष्ट्रीय वयोश्री योजना - इस योजना का उद्देश्य गरीबी रेखा से नीचे (BPL) की श्रेणी के उन वरिष्ठ नागरिकों को सहायता और सहायक उपकरण प्रदान करना है जो उम्र से संबंधित अक्षमता या असमर्थता से पीड़ित हैं I लॉन्च - वर्ष 2017

  • वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना - शुरुआत - 14 अगस्त 2014 




By admin: Aug. 20, 2022

7. विश्व मानवतावादी दिवस

Tags: Important Days


विश्व मानवतावादी दिवस हर साल 19 अगस्त को उन लोगों के सम्मान में मनाया जाता है जिन्होंने मानवता की सेवा करने में अपना सम्पूर्ण जीवन बलिदान कर दिया।


महत्वपूर्ण तथ्य

  • इसका उद्देश्य दुनिया भर में मानवीय सहायता की आवश्यकता के बारे में जागरूकता फैलाना है।

  • यह दिवस मानवीय मामलों और मानवीय भागीदारों के समन्वय के लिए संयुक्त राष्ट्र कार्यालय द्वारा एक अभियान है।

  • विश्व मानवतावादी दिवस 2022 की थीम - इट टेक्स अ विलेज 

पृष्ठभूमि :

  • 19 अगस्त 2003 को, इराक के बगदाद में कैनाल होटल पर एक बम हमले में 22 मानवीय सहायता कर्मियों की मौत हो गई.

  • इस हमले में इराक के लिए संयुक्त राष्ट्र महासचिव के विशेष प्रतिनिधि सर्जियो विएरा डी मेलो की भी मृत्यु हो गई थी।

  • इस हमले के पांच साल बाद,वर्ष 2008 में महासभा ने 19 अगस्त को विश्व मानवतावादी दिवस के रूप में नामितकरने का एक प्रस्ताव पारित किया।

दिन का महत्व :

  • यह दिन लोगों द्वारा मानवीय कारणों और जरूरतों के लिए किए गए बलिदानों की याद के रूप में कार्य करता है।

  • इस वर्ष इस दिवस का उद्देश्य उन हजारों स्वयंसेवकों की निस्वार्थ सेवा की ओर ध्यान आकर्षित करना है जो संकट के दौरान लोगों को तत्काल चिकित्सा देखभाल, भोजन, आश्रय और सुरक्षा प्रदान करते हैं।

मानवीय सेवा की आवश्यकता :

  • संयुक्त राष्ट्र के अनुमानों के अनुसार, 2022 में 274 मिलियन लोगों को मानवीय सहायता और सुरक्षा की आवश्यकता होगी।

  • 2021 से इस संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई है जब यह आंकड़ा 235 मिलियन था, जो पिछले कई दशकों में सबसे अधिक था।

  • संयुक्त राष्ट्र और सहयोगी संगठनों का लक्ष्य 63 देशों में सबसे अधिक मानवीय सहायता की जरुरत वाले 183 मिलियन लोगों की मदद करना है, जिसके लिए 41 अरब डॉलर की आवश्यकता होगी।

By admin: Aug. 19, 2022

8. विश्व फोटोग्राफी दिवस

Tags: Important Days


विश्व फोटोग्राफी दिवस हर साल 19 अगस्त को मनाया जाता है।


महत्वपूर्ण तथ्य -

  • यह दिवस फोटोग्राफी की कला, शिल्प, विज्ञान और इतिहास का एक वार्षिक, विश्वव्यापी उत्सव है।

  • फोटोग्राफी सबसे महत्वपूर्ण कला के रूपों में से एक है, यह किसी की भावनाओं और व्यक्तिगत अभिव्यक्ति को व्यक्त करने का एक साधन है।

  • हेनरिक इबसेन की एक प्रसिद्ध कहावत है जिसमें उन्होंने कहा था, 'एक तस्वीर एक हजार शब्दों के बराबर होती है'।

  • कभी-कभी तस्वीरें, शब्दों की तुलना में अधिक प्रभावी ढंग से भावनाओं को व्यक्त करती हैं.

  • किसी वस्तु की पहली स्थायी तस्वीर 1826 में फ्रांसीसी जोसेफ नाइसफोर नीपसे द्वारा खींची गई थी।

विश्व फोटोग्राफी दिवस 2022 की थीम :

  • थीम 2022 - "लेंस के माध्यम से महामारी का लॉकडाउन।"

  • यह थीम इस बात पर प्रकाश डालता है कि हम कैमरे (लेंस) के माध्यम से महामारी के चलते हुए लॉकडाउन को कैसे देखते हैं।

  • कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन लगाया गया था और उस अवधि में कई लोगों ने फोटोग्राफी के शानदार कौशल को सीखा।

विश्व फोटोग्राफी दिवस का इतिहास :

  • विश्व फोटोग्राफी दिवस मनाने की शुरुआत 9 जनवरी, 1839 को फ्रांस में हुई थी।

  • उस समय एक फोटोग्राफी प्रक्रिया की घोषणा की गई थी, जिसे डॉगोरोटाइप प्रक्रिया कहा जाता है और इसी प्रक्रिया को दुनिया की पहली फोटोग्राफी प्रक्रिया माना जाता है।

  • इसका आविष्कार फ्रांस के जोसेफ नाइसफोर और लुई डौगर ने किया था।

  • 19 अगस्त, 1839 को फ्रांस की सरकार ने इस आविष्कार की घोषणा की और उसका पेटेंट हासिल किया।

  • इसे हमेशा याद रखने के लिए प्रति वर्ष 19 अगस्त को  'विश्व फोटोग्राफी दिवस' मनाया जाता है।

By admin: Aug. 16, 2022

9. विश्व अंगदान दिवस

Tags: Important Days


अंग दान के बारे में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से प्रत्येक वर्ष 13 अगस्त को विश्व भर में विश्व अंगदान दिवस के रूप में मनाया जाता है।

महत्वपूर्ण तथ्य 

  • इसके अलावा भारत में प्रत्येक वर्ष 27 नवंबर को “राष्ट्रीय अंगदान दिवस” मनाया जाता है।

  • इस साल की थीम 'अंग दान कर लोगों की जान बचाने का संकल्प लें' है।

महत्व

  • अंग दान के मिथकों को दूर करने के लिए यह दिन मनाया जाता है।

  • यह लोगों को मृत्यु के बाद अपने स्वस्थ अंगों को दान करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहता है क्योंकि इससे अधिक लोगों की जान बच जाएगी।

  • इसका उद्देश्य लोगों को यह महसूस करने में मदद करना है कि स्वस्थ अंगों की अनुपलब्धता के कारण बहुत से लोग अपनी जान गंवा देते हैं। इस प्रकार, स्वेच्छा से अपने स्वस्थ अंगों को दान करने से कई लोगों का जीवन बदल सकता है।

विश्व अंग दान का इतिहास

  • वर्ष 1953 में पेरिस में जीन हैम्बर्गर द्वारा मानव किडनी का पहला अस्थायी रूप से सफल प्रत्यारोपण किया गया था। 

  • माँ से 16 वर्ष के बच्चे में किडनी प्रत्यारोपित  की गई थी।

  • हालाँकि पहला दीर्घकालिक सफल गुर्दा प्रत्यारोपण वर्ष 1954 में अमेरिका में किया गया था। 

  • डॉक्टर जोसेफ मरे द्वारा यह सफल प्रत्यारोपण किया गया था। 

  • इसके लिये डॉक्टर जोसेफ मरे को वर्ष 1990 में “फिजियोलॉजी और मेडिसिन के लिये नोबेल पुरस्कार” मिला था।





By admin: Aug. 12, 2022

10. अंतर्राष्ट्रीय युवा दिवस

Tags: Important Days


हर साल 12 अगस्त को दुनिया भर में अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस मनाया जाता है।

महत्वपूर्ण तथ्य

  • इस दिन का उद्देश्य युवाओं के आसपास के सांस्कृतिक और कानूनी मुद्दों पर ध्यान आकर्षित करना है।

  • इसका उद्देश्य दुनिया भर के युवाओं के सामने आने वाली चुनौतियों और कठिनाइयों के बारे में जागरूकता बढ़ाना भी है।

  • 15 से 24 वर्ष की आयु के सभी व्यक्ति युवा के रूप में माने जाते हैं, और आंकड़ों के अनुसार, हमारे ग्रह पर आधे से अधिक लोग 30 या उससे कम उम्र के हैं, और यह संख्या 2030 के अंत तक 57% तक पहुंचने की उम्मीद है।

पृष्ठभूमि

  • संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 1965 में युवाओं पर ध्यान केंद्रित करने के प्रयास शुरू किए।

  • वर्ष 1999 में संयुक्त राष्ट्र ने इस दिन को प्रत्येक वर्ष अंतर्राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया।

  • यह 1998 में लिस्बन में युवाओं के कल्याण के लिए जिम्मेदार मंत्रियों के विश्व सम्मेलन द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा को की गई एक सिफारिश पर आधारित था।

  • प्रथम अंतर्राष्ट्रीय युवा दिवस 12 अगस्त, 2000 को मनाया गया था।

2022 की थीम

  • "इंटरजेनरेशनल सॉलिडेरिटी: क्रिएटिंग ए वर्ल्ड फॉर ऑल एज" 2022 का विषय है।

  • इस वर्ष की थीम का उद्देश्य यह संदेश फैलाना है कि सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए युवाओं सहित सभी पीढ़ियों में कार्रवाई की आवश्यकता है।

  • इसका उद्देश्य आयुवाद के बारे में जागरूकता बढ़ाना भी है, जिसका युवा और वृद्ध व्यक्तियों पर समान रूप से नकारात्मक उद्देश्य है।

Date Wise Search