Current Affairs search results for tag: national
By admin: July 15, 2022

1. केरल में भारत के पहले मंकीपॉक्स मामले की पुष्टि

Tags: National News

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से लौटा कोल्लम, केरल के एक व्यक्ति में 14 जुलाई को भारत में मंकीपॉक्स के पहले मामले के रूप में पुष्टि की गई है।

महत्वपूर्ण तथ्य  

  • व्यक्ति को तिरुवनंतपुरम के सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एमसीएच) में इलाज के लिए आइसोलेट किया गया है।

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार यह पहली बार है कि पांच डब्ल्यूएचओ क्षेत्रों में मंकीपॉक्स के मामले रिपोर्ट किए जा रहे हैं।

मंकीपॉक्स क्या है?

  • यह एक वायरल जूनोटिक बीमारी है जो जानवरों से इंसानों में फैलती है।

  • मंकीपॉक्स वायरस एक ऑर्थोपॉक्सवायरस है जो चेचक के समान होता है।

  • यह बंदरों में चेचक जैसी बीमारी के रूप में पहचाना गया है इसलिए इसे मंकीपॉक्स कहा जाता है।

  • यह पहली बार 1958 में, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य (DRC) में बंदरों में और 1970 में मनुष्यों में देखा गया था।

  • नाइजीरिया में 2017 में इस रोग का प्रकोप अब तक का सबसे बड़ा प्रकोप था।

  • मंकीपॉक्स वायरस उच्च दर से उत्परिवर्तित होता है लेकिन लक्षण दिखाई देने के बाद उपचार योग्य होता है।

रोग का लक्षण

  • बुखार, तेज सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द, पीठ दर्द, कम ऊर्जा, सूजी हुई लिम्फ नोड्स और त्वचा पर लाल चकत्ते या घाव।

  • संक्रमित लोगों में चेचक जैसा दिखने वाले दाने निकल आते हैं।

  • रोग के प्रारंभिक चरण में, मंकीपॉक्स और चेचक में अंतर किया जा सकता है क्योंकि मंकीपॉक्स लिम्फ ग्रंथि बढ़ जाती है।

रोग का संचरण

  • यह आमने-सामने, त्वचा से त्वचा और सीधे संपर्क से फैलता है।

  • यह रोग शारीरिक तरल पदार्थ, त्वचा पर घावों या आंतरिक श्लेष्म सतहों, जैसे मुंह या गले, श्वसन बूंदों और दूषित वस्तुओं के संपर्क के माध्यम से फ़ैल सकता है।

उपचार और टीका

  • मंकीपॉक्स संक्रमण के लिए कोई विशिष्ट उपचार या टीका उपलब्ध नहीं है।

  • मंकीपॉक्स को रोकने में चेचक रोधी टीके को 85% प्रभावी देखा गया है।

  • चेचक के लिए विकसित एक नया टीका एमवीए-बीएन 2019 में मंकीपॉक्स को रोकने में उपयोग के लिए अनुमोदित किया गया था, लेकिन अभी तक व्यापक रूप से उपलब्ध नहीं है।

By admin: July 15, 2022

2. I2U2 शिखर सम्मेलन : यूएई पूरे भारत में एकीकृत फूड पार्क विकसित करेगा

Tags: Popular International News

संयुक्त अरब अमीरात ने 14 जुलाई को पूरे भारत में एकीकृत खाद्य पार्कों की एक श्रृंखला विकसित करने के लिए 2 बिलियन अमरीकी डालर के निवेश की घोषणा की।

शिखर सम्मेलन का परिणाम

  • I2U2 समूह के नेताओं - प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन, इजरायल के प्रधान मंत्री यायर लापिड और यूएई के राष्ट्रपति मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के पहले आभासी शिखर सम्मेलन के बाद इस निर्णय की घोषणा की गई।

  • शिखर सम्मेलन खाद्य सुरक्षा संकट और स्वच्छ ऊर्जा पर केंद्रित था।

  • अमेरिका और इजरायल के निजी क्षेत्रों को अपनी विशेषज्ञता देने और परियोजना की समग्र स्थिरता में योगदान करने वाले अभिनव समाधान प्रदान करने के लिए आमंत्रित किया जाएगा।

  • सम्मेलन में दीर्घकालिक, अधिक विविध खाद्य उत्पादन और खाद्य वितरण प्रणाली सुनिश्चित करने के लिए नवीन तरीकों पर चर्चा की गई जो वैश्विक खाद्य संकट को बेहतर ढंग से प्रबंधित कर सकते हैं।

  • I2U2 समूह गुजरात में 300 मेगावाट पवन और सौर क्षमता वाली हाइब्रिड नवीकरणीय ऊर्जा परियोजना को आगे बढ़ाएगा।

  • इस समूह का यह पहला शिखर सम्मेलन था.

महत्व

  • एकीकृत खाद्य पार्क खाद्य में अपशिष्ट, ताजे पानी के संरक्षण और नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों को नियोजित करने के लिए अत्याधुनिक जलवायु-स्मार्ट प्रौद्योगिकियों को शामिल किए जाएंगे।

  • भारत परियोजना के लिए उपयुक्त भूमि उपलब्ध कराएगा और किसानों के फूड पार्कों में एकीकरण की सुविधा प्रदान करेगा।

  • ये निवेश फसल की पैदावार को अधिकतम करने में मदद करेंगे और दक्षिण एशिया और मध्य पूर्व में खाद्य असुरक्षा से निपटने में सहायक होंगे।

'I2U2' समूह क्या है?

  • I2U2 भारत, इज़राइल, यू.एस. और संयुक्त अरब अमीरात का एक समूह है, जिसे 'पश्चिम एशियाई क्वाड' कहा गया है।

  • समूह को 'I2U2' के रूप में जाना जाता है, जिसमें "I" भारत और इज़राइल के लिए और "U" अमेरिका और संयुक्त अरब अमीरात के लिए है।

  • यह विचार यू एस के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने यू एस राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ व्यक्त किया था।

  • I2U2 समूह की संकल्पना 18 अक्टूबर 2021 को आयोजित चार देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक के दौरान की गई थी।

I2U2 समूह के उद्देश्य

  • I2U2 का लक्ष्य समाज की जीवंतता और उद्यमशीलता की भावना का दोहन करना है ताकि दुनिया के सामने आने वाली कुछ सबसे बड़ी चुनौतियों का सामना किया जा सके।

  • इसका उद्देश्य जल, ऊर्जा, परिवहन, अंतरिक्ष, स्वास्थ्य और खाद्य सुरक्षा जैसे पारस्परिक रूप से पहचाने गए छह क्षेत्रों में संयुक्त निवेश को प्रोत्साहित करना है।

  • बुनियादी ढांचे के आधुनिकीकरण, उद्योगों के लिए कम कार्बन विकास मार्ग, सार्वजनिक स्वास्थ्य में सुधार, और महत्वपूर्ण उभरती और हरित प्रौद्योगिकियों के विकास को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए निजी क्षेत्र की पूंजी और विशेषज्ञता का समुचित उपयोग।

By admin: July 14, 2022

3. देशव्यापी अभियान 'हर घर तिरंगा' शुरू करेगी सरकार

Tags: National News

केंद्र सरकार 75वें स्‍वतंत्रता दिवस के अवसर पर देश भर में हर घर तिरंगा राष्‍ट्रीय अभियान शुरू करेगी।

  • यह अभियान संस्‍कृति मंत्रालय द्वारा आज़ादी के अमृत महोत्‍सव के अंतर्गत शुरू किया जाएगा।

महत्वपूर्ण तथ्य 

  • गृहमंत्री अमित शाह ने राष्‍ट्रीय ध्‍वज तिरंगे के सम्‍मान में इस अभियान को स्‍वीकृति दी है।

  • अभियान का उद्देश्‍य लोगों में देशभक्ति की भावना को जागृत करना और तिरंगे के प्रति जागरूकता लाना है।

  • यह अभियान 11 से 17 अगस्त तक लगातार संचालित होगा।

ध्‍वज आचार संहिता, 2002 

  • राष्‍ट्रीय ध्‍वज के इस्‍तेमाल, प्रदर्शन और फहराने के नियम ध्‍वज आचार संहिता, 2002 में बताए गए हैं।

  • यह आचार संहिता 26 जनवरी, 2002 को लागू की गई थी। 

  • ध्वज आचार संहिता, 2002, ध्वज के सम्मान और गरिमा को बनाए रखते हुए तिरंगे के अप्रतिबंधित प्रदर्शन की अनुमति देता है।

  • भारतीय ध्वज संहिता, 2002 को तीन भागों में बाँटा गया है--

  • पहले भाग में राष्ट्रीय ध्वज का सामान्य विवरण है।

  • दूसरे भाग में जनता, निजी संगठनों, शैक्षिक संस्थानों आदि के सदस्यों द्वारा राष्ट्रीय ध्वज के प्रदर्शन के विषय में बताया गया है। 

  • तीसरा भाग केंद्र और राज्य सरकारों तथा उनके संगठनों एवं अभिकरणों द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराने के विषय में जानकारी देता है। इसमें उल्लेख है कि तिरंगे का उपयोग व्यावसायिक उद्देश्यों के लिये नहीं किया जा सकता है।

  • इसके अलावा ध्वज का उपयोग उत्सव के रूप में या किसी भी प्रकार की सजावट के प्रयोजनों के लिये नहीं किया जाना चाहिये।

  • आधिकारिक प्रदर्शन के लिये केवल भारतीय मानक ब्यूरो द्वारा निर्धारित विनिर्देशों के अनुरूप और उसके चिह्न वाले झंडे का उपयोग किया जा सकता है।



By admin: July 14, 2022

4. फ्रांस बैस्टिल दिवस 2022

Tags: Important Days International News

फ्राँस प्रत्येक वर्ष 14 जुलाई को राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाता है जिसे बास्तील दिवस भी कहा जाता है।

महत्वपूर्ण तथ्य 

  • फ्राँसीसी राष्ट्रीय दिवस को औपचारिक रूप से फ्राँस में ला फेट नेशनेल (La Fete Nationale) कहा जाता है।

  • यह 14 जुलाई, 1789 को फ्रांसीसी क्रांति के दौरान सैन्य किले और जेल के रूप में मशहूर बास्तील में धावा बोलने की  वर्षगांठ के रूप में मनाया जाता है ।

  • फ्राँस के साथ-साथ यह अन्य देशों और विशेष रूप से फ्रेंच भाषी लोगों एवं समुदायों द्वारा भी मनाया जाता है।

  • इस अवसर पर कई सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं लेकिन सबसे प्रसिद्ध कार्यक्रम बास्तील दिवस मिलिट्री परेड है। 

  • यह परेड 14 जुलाई की सुबह पेरिस में होती है। पहली परेड वर्ष 1880 में आयोजित की गई थी। 

  • प्रसिद्ध साइकिल दौड़ टूर डी फ्राँस  भी बास्तील दिवस के दौरान होती है।

  • बास्तील पेरिस में एक मध्ययुगीन शस्त्रागार, किला और जेल था। 

  • कई आम लोगों के लिये यह अनुचित राजशाही का प्रतिनिधित्व करता था और राजशाही सत्ता के दुरुपयोग का प्रतीक था।

  • 14 जुलाई, 1789 को सैनिकों ने बास्तील पर धावा बोल दिया और उस पर अधिकार कर लिया। 

  • इसने फ्रांसीसी क्रांति की शुरुआत का संकेत दिया और तीन साल बाद 1792 में फ्रांसीसी गणराज्य का गठन किया गया।

फ्रांस के बारे में 

  • फ्रांस पश्चिमी यूरोप में स्थित एक देश हैI 

  • क्षेत्रफल की दृष्टि से यह यूरोप महाद्वीप का सबसे बड़ा देश है।

  • राजधानी- पेरिस

  • राष्ट्रपति– इमैनुएल मैक्रों

  • मुद्रा - यूरो

By admin: July 14, 2022

5. जापान ने मरणोपरांत पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को देश का सर्वोच्च सम्मान प्रदान किया

Tags: Awards International News

जापान सरकार ने मरणोपरांत पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को ‘सुप्रीम आर्डर ऑफ़ द क्राईसेंथमम’ से सम्मानित करने का निर्णय लिया है।

महत्वपूर्ण तथ्य 

  • शिंजो आबे जापान के सबसे लंबे समय तक कार्य करने वाले प्रधानमंत्री थे।

  • वह युद्ध के बाद के संविधान के तहत जापान के सर्वोच्च आदेश प्राप्त करने वाले चौथे पूर्व प्रधानमंत्री हैं।

  • शिंजो आबे की 8 जुलाई, 2022 को हत्या कर दी गई थी, जब वह नारा शहर में चुनाव प्रचार कर रहे थे।

  • 41 साल की तेत्सुया यामागामी ने 10 मीटर की दूरी से उन पर दो गोलियां चलाईं थी ।

  • कार्डियक और पल्मोनरी अरेस्ट के कारण अस्पताल ले जाने के दौरान उनकी हालत बिगड़ गई। बाद में नारा मेडिकल यूनिवर्सिटी अस्पताल में उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

सुप्रीम आर्डर ऑफ़ द क्राईसेंथमम

  • यह जापान में सर्वोच्च आदेश है।

  • जापान के सम्राट मीजी ने 1876 में ग्रैंड कॉर्डन ऑफ द ऑर्डर की स्थापना की थी। 

  • बाद में, 4 जनवरी, 1888 को कॉलर ऑफ द ऑर्डर जोड़ा गया।

  • यूरोपीय आदेशों के विपरीत, यह आदेश मरणोपरांत भी प्रदान किया जा सकता है।

  • अभी तक इंपीरियल फैमिली के अलावा सिर्फ 7 जापानी नागरिकों को यह आदेश दिया गया है।

  • 1928 में पूर्व प्रधानमंत्री सायनजी किनमोची को अंतिम आदेश दिया गया था।

By admin: July 14, 2022

6. सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय ने 'भारत में युवा 2022' रिपोर्ट जारी की

Tags: National News

हाल ही में सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (MoSPI) ने 'यूथ इन इंडिया 2022' रिपोर्ट जारी की है I 

रिपोर्ट के प्रमुख बिंदु 

  • यूथ इन इंडिया 2022 की रिपोर्ट के मुताबिक, 2036 तक युवाओं की संख्या ढाई करोड़ कम हो जाएगी। फिलहाल देश में युवाओं की आबादी 37.14 करोड़ है।

  • 2036 में घटकर यह 34.55 करोड़ हो जाएगी।

  • देश में इन दिनों 10.1% बुजुर्ग हैं, जो 2036 तक बढ़कर 14.9% हो जाएंगे।

  • प्रजनन क्षमता में निरंतर गिरावट के कारण कामकाजी उम्र (25 से 64 वर्ष के बीच) की जनसंख्या में वृद्धि हुई हैI

राज्यों की स्थिति 

  • केरल, तमिलनाडु और हिमाचल प्रदेश जैसे राज्यों में वर्ष 2036 तक युवाओं की तुलना में अधिक बुजुर्ग आबादी का अनुमान है।

  • बिहार एवं उत्तर प्रदेश ने वर्ष 2021 तक कुल जनसंख्या में युवा आबादी के अनुपात में वृद्धि का अनुभव किया है और फिर इसमें गिरावट की संभावना है।

  • महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और राजस्थान के साथ इन दोनों राज्यों में देश के आधे से अधिक (52%) युवाओं के होने का अनुमान है।

युवा आबादी घटने के कारण 

  • फर्टिलिटी रेट- कुछ सालों से फर्टिलिटी रेट में गिरावट आ रही है I  फर्टिलिटी रेट यानी एक महिला द्वारा जन्म देने वाले बच्चों की औसत संख्या है। 

  • 2011 में फर्टिलिटी रेट 2.4 था, जो 2019 तक घटकर 2.1 पर आ गयाI 

  • क्रूड डेथ रेट- भारत में अब डेथ रेट कम होता जा रहा है I  क्रूड डेथ रेट का मतलब है कि हर एक हजार लोगों पर कितनी मौतें हो रहीं हैं I 

  • 2019 में क्रूड डेथ रेट 6.0 था, जबकि 2011 में ये 7.1 थाI 

By admin: July 14, 2022

7. मंत्रिमंडल ने बेहतर गतिशीलता के लिए तरंगा हिल-अंबाजी-अबू रोड रेल लाइन को मंजूरी दी

Tags: National News

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने तरंगा हिल-अंबाजी-आबू रोड नई रेल लाइन के निर्माण को मंजूरी दी है। 

  • इसके तहत गुजरात में मेहसाणा जिले के तारंगा हिल, बनासकांठा के अंबाजी और राजस्थान में आबू रोड तक रेलवे लाइन बिछाई जाएगी।

महत्वपूर्ण तथ्य 

  • तरंगा हिल-अंबाजी-आबू रोड नई रेल लाइन 2798.16 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से रेल मंत्रालय द्वारा बनाई जाएगी।

  • इस परियोजना में दो राज्यों के तीन तीर्थ स्थल जुड़ेंगे जिसे, 2026-27 तक पूरा करने का लक्ष्य है।

  • इस रेल लाइन की लंबाई 116.65 किलोमीटर होगी।

  • यह रेल लाइन कृषि और स्थानीय उत्पादों के परिवहन में तेज आवागमन की सुविधा प्रदान करेगी और गुजरात और राजस्थान राज्यों का देश के अन्य हिस्सों के साथ बेहतर गतिशीलता प्रदान करेगी। 

अंबाजी

  • माँ अंबाजी मंदिर गुजरात-राजस्थान सीमा पर अरासुर पर्वत पर स्थित है।

  • यह मंदिर गुजरात के बनासकांठा जिले में स्थित है I 

  • अम्बाजी मन्दिर हिन्दुओं की 51 शक्ति-पीठों में से एक है।

  • अंबाजी का मंदिर इसलिए भी अनोखा माना जाता है, क्योंकि यहां देवी की एक भी मूर्ती नहीं है। मूर्ती के बजाए यहां एक बेहद ही पवित्र श्री यंत्र है, जिसकी मुख्य रूप से पूजा की जाती है। 

माउंट आबू

  • माउंट आबू राजस्थान राज्य के सिरोही ज़िले में स्थित एक नगर है। 

  • यह अरावली पहाड़ियों में स्थित एक हिल स्टेशन है I 

  • माउंट आबू ब्रह्माकुमारी समुदाय का मुख्यालय है I 

तरंगा हिल 

  • तरंगा हिल गुजरात के मेहसाणा जिले में एक जैन तीर्थयात्रा केंद्र है। 

  • यहाँ जैन धर्म के द्वितीय तीर्थकर अजितनाथ का मंदिर स्थित है।

  • 12वीं शताब्दी में श्वेतांबर सोलंकी राजा कुमारपाल ने भगवान अजीतनाथ के सम्मान में इस खूबसूरत मंदिर का निर्माण करवाया था।

By admin: July 14, 2022

8. टाइम पत्रिका की 2022 के विश्व के महानतम स्थानों की सूची में अहमदाबाद और केरल

Tags: International News

भारत के पहले यूनेस्को विश्व धरोहर शहर, अहमदाबाद और केरल को टाइम पत्रिका द्वारा "2022 के विश्व के 50 महानतम स्थानों" की सूची में शामिल किया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य

  • भारत के इन दोनों स्थानों को ‘घूमने-फिरने के लिए 50 असाधारण स्थलों’ के रूप में चुना गया है.

  • टाइम पत्रिका ने केरल को शानदार समुद्र तटों और हरे-भरे बैकवाटर, मंदिरों और महलों के साथ भारत के सबसे खूबसूरत राज्यों में से एक के रूप में वर्णित किया।

  • टाइम पत्रिका ने अहमदाबाद को एक ऐसा शहर बताया है जो 'प्राचीन स्थलों और समकालीन नवाचारों का प्रतिनिधित्व करता है' जो इसे 'सांस्कृतिक पर्यटन के लिए मक्का' बनाता है।

  • साबरमती नदी के तट पर स्थित गांधी आश्रम, गुजरात साइंस सिटी और नवरात्रि उत्सव का टाइम पत्रिका में विशेष उल्लेख किया गया है।

  • अहमदाबाद और केरल के अलावा, दुनिया के अन्य शहर जो शीर्ष 50 की सूची में शामिल हैं, उनमें सियोल, बाली में बुहान, ऑस्ट्रेलिया में ग्रेट बैरियर रीफ शामिल हैं।

टाइम पत्रिका के बारे में

  • इसकी स्थापना 1923 में हुई है।

  • करंट अफेयर्स, राजनीति, व्यवसाय, स्वास्थ्य, विज्ञान और मनोरंजन में जो हो रहा है, उसके लिए यह सबसे आधिकारिक और सूचनात्मक मार्गदर्शक रहा है।

  • यह न्यूयॉर्क से प्रकाशित होने वाली पत्रिका है।

By admin: July 14, 2022

9. उपभोक्ता मामले विभाग ने मरम्मत के अधिकार पर पैनल का गठन किया

Tags: National News

मरम्मत के अधिकार को एक समग्र ढांचा प्रदान करने के लिए, उपभोक्ता मामलों के विभाग ने अतिरिक्त सचिव निधि खत्री की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य

  • पिछले महीने, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत में जीवन (पर्यावरण के लिए जीवन शैली) गति की अवधारणा का शुभारंभ किया।

  • इसमें विभिन्न उपभोक्ता उत्पादों के पुन: उपयोग और पुनर्चक्रण की अवधारणा शामिल है।

समिति के गठन का उद्देश्य

  • स्थानीय बाजार में उपभोक्ताओं और उत्पाद खरीदारों को सशक्त बनाना और मूल उपकरण निर्माताओं और तीसरे पक्ष के खरीदारों और विक्रेताओं के बीच व्यापार में सामंजस्य स्थापित करना।

  • उत्पादों की सतत खपत का विकास और ई-कचरे में कमी लाना।

मरम्मत का अधिकार क्या है?

  • मरम्मत का अधिकार किसी वस्तु के निर्माताओं द्वारा अनुचित प्रतिस्पर्धा-विरोधी प्रथाओं को प्रतिबंधित करता है।

  • मरम्मत का अधिकार निर्माताओं से यह सुनिश्चित करने के लिए कहता है कि ग्राहक स्वयं या किसी तीसरे पक्ष की एजेंसी की मदद से अपने सामान की मरम्मत करवा सकता है।

  • जब हम कोई वस्तु खरीदते हैं, तो हम स्वतः ही उसके पूर्ण स्वामी बन जाते हैं।

  • ऐसा माना जाता है कि ग्राहकों को निर्माताओं के अधीन हुए बिना उत्पादों को आसानी से और किफायती रूप से मरम्मत और बदलने की स्वतंत्रता होनी चाहिए।

वस्तुएं जो मरम्मत के अधिकार के अंतर्गत शामिल हैं

  • कृषि उपकरण, मोबाइल फोन/टैबलेट, टिकाऊ उपभोक्ता वस्तुएं और ऑटोमोबाइल/ऑटोमोबाइल उपकरण

By admin: July 14, 2022

10. 2022 की पहली छमाही में चीन से भारत के आयात में रिकॉर्ड वृद्धि

Tags: Economy/Finance International News

13 जुलाई को जारी चीन के व्यापार आंकड़ों के मुताबिक, चीन से भारत का आयात साल की पहली छमाही में रिकॉर्ड 57.51 अरब डॉलर पर पहुंच गया।

भारत-चीन द्विपक्षीय व्यापार

  • इस वर्ष चीनी सामानों का आयात रिकॉर्ड वृद्धि पर है, और पिछले साल के 97.5 बिलियन डॉलर के आंकड़े को पार करने के लिए तैयार है।

  • व्यापार असंतुलन भी एक और रिकॉर्ड की ओर बढ़ रहा है, इस साल आयात 2021 में इसी अवधि से 34.5% ऊपर है।

  • 2021 में दोतरफा व्यापार पहली बार 100 अरब डॉलर को पार कर 125.6 अरब डॉलर तक पहुंच गया, जिसमें भारत का आयात 97.5 अरब डॉलर था।

  • महामारी के कारण 2020 में व्यापार में गिरावट आई, लेकिन अब यह महामारी से पहले के स्तर पर काफी ऊपर है।

  • चीन भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है।

चीन से भारत में आयात की जाने वाली प्रमुख वस्तुएं

  • इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, मशीन, इंजन, पंप, जैविक रसायन, उर्वरक, लोहा और इस्पात, प्लास्टिक, लोहा या इस्पात उत्पाद, रत्न आदि।

भारत से चीन को निर्यात की जाने वाली प्रमुख वस्तुएं

  • कपास, रत्न, कीमती धातु, सिक्के, तांबा अयस्क, लावा, राख, कार्बनिक रसायन, नमक, सल्फर, पत्थर, सीमेंट, मशीन, इंजन आदि।



Date Wise Search